Friday, 24 May 2013

अपनी गलती कब मानत है|


दुर्मिल सवैया लिखने का प्रथम प्रयास ..... 


हर बार लरै तकरार करै अपनी गलती कब मानत है|
छिन में छिन जात जिया छलिया छलके सगरे गुर जानत है|
नहिं लाज हया उनको तनि नैन कटारि हिया पर मारत है|
सखि ऐसन ढीठ पिया पर क्यों तन मुग्ध हुआ हिय हारत है|

19 comments:

  1. अनुपम भाव संयोजन ...

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद सदा जी !

      Delete
  2. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा शनिवार(25-5-2013) के चर्चा मंच पर भी है ।
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद वंदना जी ...

      Delete
  3. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन अरुणिमा सिन्हा को सलाम - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  4. लाजवाब अभिव्यक्ति | बहुत सुन्दर | आभार

    कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    ReplyDelete
  5. बहुत सुंदर अच्छा प्रयास ,,,शुभकामनाए ,,,,

    ReplyDelete
  6. बहुत सुन्दर ....गेयता लिए हुए ....!!

    ReplyDelete
  7. sacchi bat ....galti karnewala apni galti kab maanta hai .....

    ReplyDelete
  8. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...आभार.

    ReplyDelete
  9. क्या बात है सवैये वगैरह अब कहाँ पढने को मिलते है इस प्रयास पर शुभकामनायें.........आगे भी लिखती रहें।

    ReplyDelete
  10. लाजवाब.. बेहतरीन लिखा है आपने....

    ReplyDelete
  11. बहुत सुन्दर दमदार प्रस्तुति के लिए धन्यवाद ...

    ReplyDelete
  12. bahut sunder shalini ji aapka pratham pryaas

    ReplyDelete
  13. बहुत सुन्‍दर प्रस्‍तुति
    हिन्‍दी तकनीकी क्षेत्र की अचंम्भित करने वाली जानकारियॉ प्राप्‍त करने के लिये एक बार अवश्‍य पधारें
    टिप्‍पणी के रूप में मार्गदर्शन प्रदान करने के साथ साथ पर अनुसरण कर अनुग्रहित करें MY BIG GUIDE

    शीर्ष पोस्‍ट
    गूगल आर्ट से कीजिये व्‍हाइट हाउस की सैर
    अपनी इन्‍टरनेट स्‍पीड को कीजिये 100 गुना गूगल फाइबर से
    मोबाइल नम्‍बर की पूरी जानकारी केवल 1 सेकेण्‍ड में
    ऑनलाइन हिन्‍दी टाइप सीखें
    इन्‍टरनेट से कमाई कैसे करें
    इन्‍टरनेट की स्‍पीड 10 गुना तक बढाइये
    गूगल के कुछ लाजबाब सीक्रेट
    गूगल ग्‍लास बनायेगा आपको सुपर स्‍मार्ट

    ReplyDelete
  14. वाह ... इस मोहक सवैयांके मजे ही आ गए ...
    बहुत लाजवाब ...

    ReplyDelete
  15. प्रथम प्रयास में आपने गणों की आवृतियों को बहुत ठीक से निभाया है। बधाई।
    मेरे ब्लॉगपर भी आयें। पसंद आने पर शामिल होकर अपना स्नेह अवश्य दें।

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणी मेरे लिए अनमोल है.अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई ,तो अपनी कीमती राय कमेन्ट बॉक्स में जरुर दें.आपके मशवरों से मुझे बेहतर से बेहतर लिखने का हौंसला मिलता है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks